• Sat. Jan 28th, 2023

24×7 Live News

Apdin News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिन पसमांदा मुसलमानों की बात की, वो कौन हैं

Byadmin

Jan 21, 2023


  • फ़ैसल मोहम्मद अली
  • बीबीसी संवाददाता, दिल्ली

मोदी मुसलमान

इमेज स्रोत, FB/TheDawoodiBohras

‘पसमांदा’ मुसलमान कोई ताज़ा-ताज़ा शब्द नहीं लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक सम्मेलन में इसके इस्तेमाल के बाद पसमांदा के शाब्दिक, सामाजिक और इतिहास के संदर्भ में अर्थ को लेकर दिलचस्पी फिर से जग गई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को समाप्त हुई भारतीय जनता पार्टी कार्यकारिणी की बैठक में कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि वो ‘वोट की चिंता के बिना’ संवेदनशीलता के साथ समाज के सभी वर्गों से रिश्ता जोड़ें’- इसी संदर्भ में बोहरा, पसमांदा मुसलमानों और दूसरे तबक़ों के ख़ास तौर पर ज़िक्र की बातें कई जगहों पर कही जा रही हैं.

पसमांदा फ़ारसी का शब्द है, जिसका अर्थ है वो जो पीछे छूट गए.

साधारण शब्दों में वैसे मुसलमान जो क़ौम के दूसरे वर्गों की तुलना में तरक्क़ी की दौड़ में पीछे छूट गए, उन्हें पसमांदा कहते हैं. उनके पीछे रहने की वजहों में से एक बड़ा कारण जाति व्यवस्था बताई जाती है.