• Tue. Jul 16th, 2024

24×7 Live News

Apdin News

CJI DY Chandrachud advice to advocate behes ke waqt thoda garma garmi ho jati hai supreme court news

Byadmin

Jul 9, 2024


ऐप पर पढ़ें

CJI DY Chandrachud: सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान अक्सर कुछ दिलचस्प मामले आ जाते हैं। इन मामलों को लेकर चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ भी कुछ टिप्पणी कर देते हैं। अपनी टिप्पणियों में चीफ जस्टिस कई बार वकीलों को नसीहत भी दे जाते हैं। ऐसा ही वाकया सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को देखने को मिला। एक केस की सुनवाई के दौरान वकील ने किसी अन्य केस का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि एक मामले की सुनवाई चल रही थी। वहां पर जज ने याचिकाकर्ता पर पांच लाख रुपए का जुर्माना लगा दिया। 

वकील यहीं पर नहीं रुके। उन्होंने आगे कहा कि जज यह भी कह रहे थे कि उनकी सनद वगैरह भी ले ली जाएगी। इस पर सीजेआई डीवाई चंद्रचूड़ ने उन्हें रोका। इसके आगे सीजेआई ने वकील को एक बड़ी नसीहत दी। उन्होंने कहा कि बहस के वक्त थोड़ा गर्मा-गर्मी हो जाती है। लेकिन आपको बेंच के जजों के ऊपर इस तरह के आरोप नहीं लगाने चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि जज लोग कभी भी वकीलों के साथ गलत व्यवहार नहीं करते हैं।

समलैंगिक विवाह पर ओपन कोर्ट में हो सुनवाई, गुहार पर क्या बोले CJI डीवाई चंद्रचूड़

एक अन्य केस जस्टिस अभय एस ओका और जस्टिस ऑगस्टिन जॉर्ज मसीह की बेंच में था। वहां पर कोर्ट ने लखनऊ के वकील अशोक पांडेय को जुर्माना न चुकाने पर खूब सुनाया। वकील अशोक पांडेय पर 50 हजार का जुर्माना लगाया था। पिछले साल सुप्रीम कोर्ट के वकीलों को हाई कोर्ट का जज बनाने को लेकर दाखिल उनकी याचिका खारिज हो गई थी। कोर्ट ने पूछा कि 50 हजार का जुर्माना चुकाने की जगह आप विदेश चले गए? इस पर वकील ने कहा कि 2023 से मुझे एक भी केस नहीं मिला है। मेरी ट्रिप मेरे बच्चों ने स्पांसर की थी।

By admin